Posts

Showing posts from March, 2016

आज़ादी:किस-किसको

जैसा की हम जानते है की आज के समय में जो माहौल ,बन रहा है या बनाया जा रहा है वह इस तरह वायरस की तरह फ़ैल रहा है की जिसके लग जाये वो बीमारी से ग्रसित हो जाता है . दर्हसल अभी हाल ही की बात है JNU में जैसा महाल बना मुझे नही पता की वहां कौन मौजूद था और किसने क्या किया पर जिस तरह का माहौल बनाने की कोसीस की गई की उल्ता खुद पर पड़े गया .. वहां किसी ने देश विरोधी नारे लगाये और पकड़ा उनको गया जो इस देश की व्यस्थ्गा के खिलाफ संघर्ष कर रहे है क्योंकि सरकार को उनको विपक्ष में बोलना बिलकुल पसंद नही ! हालाँकि जनता का पूरा जन्मात और बहुमत दोनों प्राप्त है फिर नही वह नही चाहती की उनके विरोध या विचार धरा पर कोई सवाल उठाये दर्हसल एक संघठन आरएसएस जिसको लगता है की इस देश पर हिटलर की तरह राज क्र सकता है पर कानून उन्हें बार बार भारत देश की अखंडता और एकता का एहसास करता रहता है पर फिर भी .. देश द्रोह के आरोप में ३० दिन सजा काट चुके कन्हैया कुमार जब जेल से बहार आये तो उन्होंने आरएसएस की विचार धरा पर सवाल खड़ा किया और बुनियादी वादों को याद दिलाया उनका कहना था की वह भारत से अजादी नही भारत में आज़ादी मांग रहे है .. उनके…

Story Of Indian Student| Life is under Expectations|

This blog is dedicated to those students who really wants to achieve their goal and capable to achieve or care about  their upcoming respect in future ….. As we know The total of persons has been increased much about expecting and while growing till now in india so that problems always hurt everyone everytime, in any way .. Students who are basically intelligent also struck in growth of persons as growing because they are in doubt now in which sector they are trying to give their best and want to do something ,no one knows when this sector may filled or be involved in corruptions because who are basically intelligent and proper entitled they are not corrupt or their not value to invest more to get this. Some students clear their goal soon and try to kick out in box in one time in which some students kick well and some students who were in confidence they loose,why the region behind was either their over confidence or they they missed it for their have more expectations from their parents…